1 मई से रोज तय होगी पेट्रोल-डीजल की कीमत

1082
Petrol Price

सोने चाँदी की तरह अब पेट्रोल-डीजल भी रोजाना तय होंगे। केन्द्र सरकार ने डीजल और पैट्रोल की कीमत Petrol Price को लेकर नई नीति तैयार की है। सरकार की नई नीति के मुताबिक आने वाले 1 मई 2017 से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हर रोज बदलाव होगा। शुरुआत में सरकार ने ये व्यवस्था केवल पांच शहरों में लागू करने का फैसला लिया है। मौजूदा समय में डीजल और पेट्रोल की कीमत 15 दिन के अंतराल पर निर्धारित की जाती है। अब पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतें अंतरराष्ट्रीय कीमतों से सिंक की जायेंगी, जिसके बाद पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतें अंतरराष्ट्रीय मार्किट के हिसाब से तय की जा सकेंगी।

पांच शहरों में लागू:-

सरकार की योजना है कि पूरे देश में पेट्रोल और डीजल की कीमत डेली डायनमिक प्राइसिंग के आधार पर तय की जा सके। इसलिए केंद्र सरकार ने यह फैसला किया है कि 1 मई से पुडुचेरी, वाइजैग, उदयपुर, जमशेदपुर और चंदीगढ़ इन पांच शहरों में अब पेट्रोल और डीजल की कीमत प्रतिदिन सुबह निर्धारित की है। अगर इन पांचो शहरों में यह योजना सफल साबित हो जाती है तो इस योजना को पूरे देश में लागू करने का फैसला किया जाएगा। यह योजना इन पांचो देशो में एक पायलेट प्रोजेक्ट के तहत लागू की जा जाएगी। गौरतलब है कि अभी तक सरकारी तेल कंपनियां अंतरराष्ट्रीय मुद्रा बाजार और क्रूड ऑयल मार्केट के उतार-चढ़ाव के आधार पर प्रति 15 दिन में पेट्रोल और डीजल की नई कीमत निर्धारित करती है।

Petrol Price
200 पेट्रोल पंप पर लागू होगी यह योजना:-

आपको पता ही होगा कि भारत में सरकारी तेल कंपनियां- इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम/हिंदुस्तान पेट्रोलियम पेट्रोल और डीजल रीटेल का 95 फीसदी कारोबार करती हैं। इन कंपनियों के पुरे देश में करीब 58,000 पेट्रोल पंप हैं। इन तीनों तेल कंपनियों के पांचो शहरों में करीब 200 पेट्रोल-डीजल पंप बताए जा रहे हैं। ये पायलेट प्रोजेक्ट तीनों तेल कंपनियां शुरुआती स्तर पर देश के पांचो शहरों के 200 पेट्रोल-डीजल पंप से शुरू करेंगी। इन पेट्रोल पंपों पर अब हर रोज सुबह नई निर्धारित कीमत के आधार पर पेट्रोल-डीजल की बिक्री होगी। ताकि हर रोज नई कीमत पर पेट्रोल-डीजल बेचने से आने वाली परेशानियों को समझा जा सके और फिर बाद में उन परेशानियों को दूर करके इस प्रोजेक्ट को पूरे देश में लागू किया जा सके।
जून 2010 में सरकार ने पेट्रोल के दाम सरकारी नियंत्रण से मुक्त कर दिये गए थे और इसके बाद अक्तूबर 2014 में डीजल के दाम को भी नियंत्रण मुक्त कर दिया गया। तीनो तेल कंपनियों को तकनीकी रूपो से ईंधनों के दाम को संशोधित करने की पूरी छूट है लेकिन अक्सर राजनीतिक परिस्थितियों को देखते हुये उन्हें संकेत दिये जाते रहे हैं। तीनों सरकारी तेल कंपनियों के पेट्रोल, डीजल के दाम लगभग एक सामान ही रहते है उनकी कीमतों मेंबस मामूली सा फर्क रहता है। दिल्ली स्थित आईओसी के पेट्रोल पंप पर पेट्रोल का दाम 66.29 रुपये लीटर है जबकि भारत पेट्रोलियम के पंप पर इसका दाम 66.37 रुपये और एचपीसीएल के पेट्रोल पंप पर सामान्य पेट्रोल 66.48 रुपये लीटर पर उपलब्ध है। इसी तरह दिल्ली में आईओसी के पंप पर बिना ब्रांड वाला डीजल 55.61 रुपये, भारत पेट्रोलियम पर 55.66 रुपये और एचपीसीएल पे डीजल 55.69 रुपये लीटर पर उपलब्ध है। पूरे देश से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने कुछ दिनों पहले अपील की थी कि वह एक दिन पेट्रोल और डीजल की खपत से बचने की कोशिश करें। इसी अपील पर आकलन लगाया जा रहा था कि सरकार देश में पेट्रोल-डीजल को राशन करने का कदम उठा सकती है और सप्ताह में एक दिन देशभर में पेट्रोल पंप को बंद करने का भी कदम उठाया जा सकता है। हालांकि, पेट्रोल-डीजल के डेली डॉयमनिक प्राइसिंग पर सूत्रों का दावा है कि यह सरकार द्वारा देश में पेट्रोल-डीजल को राशन करने का कदम नहीं है, यह तो पूरी तरह से पेट्रोल कंपनियों का फैसला है।Petrol Price

 

LEAVE A REPLY