Aspirants: क्या है ऐसा इस वेब सीरीज में जो सबको हिलाके रख दिया

281
TVF aspirants Review

हर UPSC उम्मीदवारों की ज़िंदगी के खट्टे-मीठे अहसासों की कहानी – TVF Aspirants

IAS अफ़सर बनने का जुनून भारत में कई छात्रों के सर पर चढ़ा रहता है। UPSC का एग्ज़ाम पास करना सबसे मुश्किल माना जाता है। शायद भारत में मध्यमवर्गीय या निचले परिवारों में पैदा होने वाला हर बच्चा किसी न किसी समय यूपीएससी की परीक्षा देने के बारे में सोचता ही है।। कई लोग अपने इस सपने को पूरा करने विभिन्न शहरों और गाँवों से झोला उठाकर बड़े शहरों की ओर निकल पड़ते हैं,

Aspirants सीरीज़ के अभिलाष, गुरी, एस.के, धैर्या और संदीप की तरह। हर वर्ष लाखों नौजावन इस एग्ज़ाम को क्रैक करने के के लिए दिन-रात एक करते हैं और अपनी क़िस्मत आज़माते हैं। इनमें से फ़ाइनली लगभग 700 से 800 कैंडिडेट फ़ाइनल लिस्ट में अपना स्थान बना पाते हैं और सिर्फ IAS की बात करें, तो हर साल देश भर में सिर्फ़ 180 विद्यार्थी IAS बन पाते हैं।

IAS बनने के संघर्षों और उतार-चढ़ावों से भरे सफ़र की हर किसी की एक कहानी होती है। दिल्ली, बनारस, पटना,  बैंगलोर, इंदौर, जयपुर, इलाहाबाद, हैदराबाद और जाने कितने शहरों के ऐसे इलाक़े, जहाँ कोचिंग संस्थानों और बुक सेलर्स की भरमार होती है। दिल्ली के ऐसे ही इलाक़े ‘ओल्ड राजिंदर नगर’ के तीन दोस्तों की तैयारी की बेहतरीन कहानी को बयान करती है ‘Aspirants’।

IDMB पर 9.0 की रेटिंग प्राप्त TVF ने इस सीरीज़ ने बहुत ही धमाल मचा रखा है ,1.8 करोड़ लोग इस को देख चुके है, आपको याद होगा की 2019 में एक वेब सीरीज आयी थी Kota Factory जिसने उस समय सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए थे| तैयारी के दौरान एक छात्रों की रोज़मर्रा की जद्दोजहद हो, टीचर-कोचिंग और ऑप्शनल सब्जेक्ट हो, स्टडी मैटेरियल को लेकर भयंकर कंफ्यूजन हो, कई साल से भाग ले रहे किसी बाबा टाइप सीनियर का ज्ञान, दोस्ती-यारी-रिलेशनशिप की भस्सड़ हो, मकानमालिक से रोज़ की किचकिच, रिक्शा और सरकारी बसों से दिल्ली की गालियाँ नापना हो, सीरीज़ के राइटर्स ने स्टूडेंट्स की ज़िंदगी और उनके संघर्षों का हर पहलू इन 5 एपिसोड्स की सीरीज में दिखाया है।

स्टूडेंट चाय की दुकान पर देश-दुनिया के बड़े-बड़े मुद्दों पर ऐसे चर्चा करते हैं, जैसे आज ही सारे राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय मुद्द्दे वही हल कर देंगे। तीन दोस्तों में से अगर एक दोस्त फ़ाइनली सलेक्ट हो जाए, तो दोस्ती किस तरह से रंग बदलती हैं। संघर्ष के दिनों की दोस्तियाँ कैसे ज़िंदगी भर एक मीठा सा अहसास बनाए रखती हैं। तैयारी के दौर के ये ये सारे अहसास इस सीरीज़ में बेहतरीन ढंग से पिरोए गए हैं। भारत के आम साधारण जिले के एक युवा कलेक्टर के काम-काज के साथ उसकी निजी ज़िंदगी की उलझनों को इस मिनी सीरीज़ में बख़ूबी फ़िल्माया गया है। मोहभंग, बेपरवाह और धागा ये टूटे ना जैसे बेहतरीन गाने इस सीरीज कम जान दाल देते है।

संदीप (सनी हिंदुजा), एसके (अभिलाष थपलियाल) ,गुरी (शिवांकित परिहार)और कलेक्टर साहब अभिलाष शर्मा (नवीन कस्तूरिया) ने अपना काम बखूबी निभाया है। पंचायत, कोटा फैक्ट्री, ट्रिपलिंग, गुल्लक, ये मेरी फॅमिली, परमानेंट रूममेट्स & पिचेर्स जैसी सीरीज देने वाले डायरेक्टर, क्रियेटर और राईटर श्रेयांश पांडेय और अरुणाभ कुमार की जितनी तारीफ़ की जाए कम है

कमाल की बात ये है की इस को देखने के लिए आपको एक भी पैसा नहीं खर्च करना पढ़ेगा | 5 एपिसोड के साथ आयी इस वेब सीरीज Aspirants को आप YouTube पर देख सकते है| नेगेटिविटी से भरे इस मुश्किल दौर में अपने मूड को बेहतर बनाने का अच्छा मौका है।

 

Also read: बेहतरीन भारतीय वेब सीरीज जो आप YouTube पर देख सकते हैं

अंत में हिन्दी के महान कवि कुँवर नारायण की कुछ पंक्तियाँ, जो इस सीरीज़ के आख़िरी एपिसोड में इस्तेमाल की गई हैं:-

“कितना स्पष्ट होता आगे बढ़ते जाने का मतलब अगर दसों दिशाएँ हमारे सामने होतीं, हमारे चारो ओर नहीं। कितना आसान होता चलते चले जाना यदि केवल हम चलते होते बाक़ी सब रुका होता। मैंने अक्सर इस ऊल-जुलूल दुनिया को दस सिरों से सोचने और बीस हाथों से पाने की कोशिश में अपने लिए बेहद मुश्किल बना लिया है।

शुरू-शुरू में सब यही चाहते हैं कि सब कुछ शुरू से शुरू हो, लेकिन अंत तक पहुँचते पहुँचते हिम्मत हार जाते हैं। हमें कोई दिलचस्पी नहीं रहती कि वह सब कैसे समाप्त होता है जो इतनी धूमधाम से शुरू हुआ था हमारे चाहने पर। दुर्गम वनों और ऊँचे पर्वतों को जीतते हुए जब तुम अंतिम ऊँचाई को भी जीत लोगे, तब तुम्हें लगेगा कि कोई अंतर नहीं बचा अब तुममें और उन पत्थरों की कठोरता में, जिन्हें तुमने जीता है।

जब तुम अपने मस्तक पर बर्फ का पहला तूफ़ान झेलोगे और कांपोगे नहीं, तब तुम पाओगे कि कोई फर्क़ नहीं सब कुछ जीत लेने में और अंत तक हिम्मत न हारने में।’

टीवीएफ (द वायरल फीवर) द्वारा बनाई गई Aspirants पहली बार 7 अप्रैल 2021 को रिलीज़ हुई और जनता को बहुत ही पसंद आयी एपिसोड 5 के साथ सीजन 1 समाप्त होने के साथ, दर्शक इसके Season 2 का इंतज़ार कर रहे है|

Summary
product image
Author Rating
1star1star1star1stargray
Aggregate Rating
no rating based on 0 votes
Brand Name
Aspirants: क्या है ऐसा इस वेब सीरीज में जो सबको हिलाके रख दिया
Product Name
Web Series

LEAVE A REPLY